-->

Kandhon Se Milte Hain Kandhe Lyrics in - lakshya

Kandhon Se Milte Hain Kandhe Lyrics In Hindi


Kandhon Se Milte Hain Kandhe Lyrics In Hindi By Javed Akhtar, Sung By Sonu Nigam, From Movie Lakshya.

Song         : Kandhon Se Milte Hain Kandhe
Singer      : Sonu Nigam
Lyricist    : Javed Akhtar
Movie      : Lakshya

Kandhon Se Milte Hain Kandhe Lyrics In Hindi

कन्धों से मिलते हैं कंधे
कदमों से कदम मिलते हैं
हम चलते हैं जब ऐसे तोह
दिल दुश्मन के हिलते हैं

कन्धों से मिलते हैं कंधे
कदमों से कदम मिलते हैं
हम चलते हैं जब ऐसे तोह
दिल दुश्मन के हिलते हैं

अब तोह हमें
आगे बढ़ते है रेहना
अब तोह हमें
साथी है बस इतना ही कहना
अब तोह हमें
आगे बढ़ते हैं रहना
अब तोह हमें
साथी है बस इतना ही कहना
अब जो भी हो शोला बनके
पत्थर है पिघलाना

अब जो भी हो बादल बनके
परबत पर है छाना
कन्धों से मिलते हैं कंधे
कदमों से कदम मिलते हैं
हम चलते हैं जब ऐसे
तोह दिल दुश्मन के हिलते हैं
कन्धों से मिलते हैं कंधे
कदमों से कदम मिलते हैं
हम चलते हैं जब ऐसे
तोह दिल दुश्मन के हिलते हैं
निकले हैं मैदान में

हम जान हथेली पर ले कर
अब देखो दम लेंगे हम
जाके अपनी मंज़िल पर

खतरों से हस्के खेलना
इतनी तोह हम में हिम्मत है
मोड़े कलाई मौत की
इतनी तोह हम में ताक़त है
हम सरहदों के वास्ते
लोहे की एक दीवार है
हम दुश्मनों के वास्ते
होशियार है तैयार है
अब जो भी हो शोला बनके
पत्थर है पिघलाना
अब जो भी हो बादल बनके
परबत पर है छाना

कन्धों से मिलते हैं कंधे
कदमों से कदम मिलते हैं
हम चलते हैं जब ऐसे
तोह दिल दुश्मन के हिलते हैं

जोश दिल में जगाते चलो
जीत के गीत गाते चलो
जोश दिल में जगाते चलो
जीत के गीत गाते चलो
जीत की जो तस्वीर बनाने
हम निकले हैं अपनी लाहू से
हम को उस में रंग भरना है
साथी मैंने अपने दिल में
अब ये ठान लिया है

या तोह अब करना है
या तोह अब मरना है
चाहें अंगारें बरसे के बिजली गिरे
तू अकेला नहीं होगा यारा मेरे
कोई मुश्किल हो या हो
कोई मोर्चा
साथ हर मोड़ पर
होंगे साथी तेरे
अब जो भी हो शोला बनके
पत्थर है पिघलाना

अब जो भी हो बादल बनके
परबत पर है छाना
कन्धों से मिलते हैं कंधे
कदमों से कदम मिलते हैं
हम चलते हैं जब ऐसे
तोह दिल दुश्मन के हिलते हैं

इक चेहरा
अक्सर मुझे याद आता है
इस दिल को
चुपके चुपके वो तड़पाता है
जब घरसे
कोई भी खत आया है
कागज़ को मैंने
भीगा भीगा पाया है
हो, पलकों पे यादों के
कुछ दीप जैसे जलते हैं
कुछ सपने ऐसे हैं
जो साथ साथ चलते हैं
कोई सपना न टूटे
कोई वादा न टूटे
तुम चाहो जिससे दिल से
वो तुमसे ना रूठे
अब जो भी हो शोला बनके
पत्थर है पिघलाना

अब जो भी हो बादल बनके
पर्बत पर है छाना
कन्धों से मिलते हैं कंधे
कदमों से कदम मिलते हैं
हम चलते हैं जब ऐसे
तोह दिल दुश्मन के हिलते हैं
चलता है जो ये कारवाँ
गुंजी सी है ये वादियां
है ये ज़मीन (गुंजी गुंजी) ये आसमान (गूंजा गूंजा)
है ये हवा (गुंजी गुंजी) है ये समां (गूंजा गूंजा)
हर रस्ते ने हर वादी ने
हर पर्बत ने सदा दी
हम जीतेंगे हम जीतेंगे
हम जीतेंगे हर बाज़ी

कन्धों से मिलते हैं कंधे
कदमों से कदम मिलते हैं
हम चलते हैं जब ऐसे
तोह दिल दुश्मन के हिलते हैं


कन्धों से मिलते हैं कंधे
कदमों से कदम मिलते हैं
हम चलते हैं जब ऐसे
तोह दिल दुश्मन के हिलते हैं


कन्धों से मिलते हैं कंधे
कदमों से कदम मिलते हैं
हम चलते हैं जब ऐसे
तोह दिल दुश्मन के हिलते हैं


कन्धों से मिलते हैं कंधे
कदमों से कदम मिलते हैं
हम चलते हैं जब ऐसे
तोह दिल दुश्मन के हिलते हैं

Kandhon Se Milte Hain Kandhe Lyrics In English

Kandhon se milte hain kandhe
Kadmon se kadam milte hain
Hum chalte hain jab aise to
Dil dushman ke hilte hain

Kandhon se milte hain kandhe
Kadmon se kadam milte hain
Hum chalte hain jab aise to
Dil dushman ke hilte hain

Ab to humein aage badhte hai rehna
Ab to humein sathi hai bas itna hi kehna
Ab to humein aage badhte hai rehna
Ab to humein sathi hai bas itna hi kehna

Ab jo bhi ho shola banke pathar hai pighlana
Ab jo bhi ho badal banke parbat par hai chana
Kandhon se milte hain kandhe
Kadmon se kadam milte hain
Hum chalte hain jab aise to
Dil dushman ke hilte hain
Kandhon se milte hain kandhe
Kadmon se kadam milte hain
Hum chalte hain jab aise to
Dil dushman ke hilte hain

Nikle hain maidan mein
Hum jaan hatheli par lekar
Ab dekho dum lenge
Hum jaake apni manzil par
Khatron se hass ke khelna
Itni to hum mein himmat hai
Modein kalaayi maut ki
Itni to hum mein taakat hai
Hum sarhado ke vaste
Lohe ki ik deewar hain
Hum dushmano ke vaste
Hoshiyar hain, tayyar hain
Ab jo bhi ho shola banke pathar hai pighlana
Ab jo bhi ho badal banke parbat par hai chana

Kandhon se milte hain kandhe
Kadmon se kadam milte hain
Hum chalte hain jab aise to
Dil dushman ke hilte hain

Josh dil mein jagaate chalo
Jeet ke geet gaate chalo
Josh dil mein jagaate chalo
Jeet ke geet gaate chalo
Jeet ki jo tasvir banaane hum nikle hain
Apne lahu se humko usme rang bharna hai
Sathi maine apne dil mein ab yeh thaan liya hai

Ya to ab karna hai, ya to ab marna hai
Chaahe anghare barsein ke bijli gire
Tu akela nahi hoga yaara mere
Koyi mushkil ho ya ho koyi morcha
Sath har mod par honge sathi tere
Ab jo bhi ho shola banke pathar hai pighlana

Ab jo bhi ho badal banke parbat par hai chana
Kandhon se milte hain kandhe
Kadmon se kadam milte hain
Hum chalte hain jab aise to
Dil dushman ke hilte hain

Ek chehra aksar mujhe yaad aata hai
Iss dil ko chupke-chupke woh tadhpata hai
Jab ghar se koyi bhi khat aaya hai
Kaghaz ko maine bheega bheega paya hai
Ho palkon pe yaado ke kuch deep jaise jalte hain
Kuch sapne aise hain jo sath sath chalte hain
Koyi sapna na tute koyi vaada na tute
Tum chaaho jise dil se woh tumse na ruthe
Ab jo bhi ho shola banke pathar hai pighlana
Ab jo bhi ho badal banke parbat par hai chana
Kandhon se milte hain kandhe
Kadmon se kadam milte hain
Hum chalte hain jab aise to
Dil dushman ke hilte hain
Chalta hai jo yeh karwan
Gunji si hain yeh vadiyaan
Hain yeh zameen, gunji gunji
Yeh aasman, gunja gunja
Hai yeh hava, gunji gunji
Hai yeh sama, gunja gunja
Har raste ne, har vaadi ne
Har parbat ne sada di

Hum jeetenge, hum jeetenge
Hum jeetenge har bazi
Kandhon se milte hain kandhe
Kadmon se kadam milte hain
Hum chalte hain jab aise to
Dil dushman ke hilte hain


Kandhon se milte hain kandhe
Kadmon se kadam milte hain
Hum chalte hain jab aise to
Dil dushman ke hilte hain


Kandhon se milte hain kandhe
Kadmon se kadam milte hain
Hum chalte hain jab aise to
Dil dushman ke hilte hain


Kandhon se milte hain kandhe
Kadmon se kadam milte hain
Hum chalte hain jab aise to
Dil dushman ke hilte hain

Other post: 

read also

Post a Comment

//oackoubs.com/4/4145780