-->

Mere khwabon mein lyrics and karaoke - dljj | srk and kajol

Mere khwabon mein lyrics


Song Detail

Song : Mere Khwabon Mein Jo Aaye
Album : Dilwale Dulhania Le Jayenge (1995)
Singer : Lata Mangeshkar
Musician : Jatin, Lalit
Lyricist : Anand Bakshi

Mere khwabon mein lyrics in English

Mere khwabon mein jo aaye
Aa ke mujhe chhed jaaye x (2)

Us-se kaho kabhi samne to aaye

Mere khwabon mein jo aaye
Aa ke mujhe chhed jaaye
Us-se kaho kabhi samne to aaye
Mere khwabon mein jo aaye

Kaisa hai, kaun hai, woh jaane kahan hai

 
Ho kaisa hai, kaun hai, woh jaane kahan hai
Jiske liye mere hothon pe haan hai
Apna hai ya beghana hai woh
Sach hai ya koyi afsana hai woh
Dekhe ghoor ghoor ke
Yoon hi door door se
Us-se kaho meri neend na churaye

Mere khwabon mein jo aaye

Aa ke mujhe chhed jaaye
Us-se kaho kabhi samne to aaye
Mere khwabon mein jo aaye
Jaadu sa jaise koyi chalne laga hai
Ho jaadu sa jaise koyi chalne laga hai
Main kya karoon dil machalne laga hai
Tera deewana hoon kehta hai woh
Chhup chhup ke phir kyun rehta hai woh
Kar baitha bhool woh, le aaya phool woh
Us-se kaho jaaye chaand le ke aaye

Mere khwabon mein jo aaye
Aa ke mujhe chhed jaaye x (2)

Us-se kaho kabhi samne to aaye

Mere khwabon mein karaoke


Mere khwabon mein lyrics in Hindi

मेरे ख़्वाबों में जो आये
आके मुझे छेड़ जाए
मेरे ख़्वाबों में जो आये
आके मुझे छेड़ जाए
उसे कहां कभी सामने तो आए
मेरे ख़्वाबों में जो आये
आके मुझे छेड़ जाए
उसे कहां कभी सामने तो आए
मेरे ख़्वाबों में जो आये

कैसा है कौन है वो जाने कहाँ है
हो कैसा है कौन है वह जाने कहाँ है
जिसके लिए मेरे होठों पे आह है
अपना है या बेगाना है वो
सच है या कोई अफसाना है वो
देखे घूर घूर के यूँही दूर दूर से
उसे कहो मेरी नींद न चुराये
मेरे ख़्वाबों में जो आये
आके मुझे छेड़ जाए
उसे कहां कभी सामने तो आए
मेरे ख़्वाबों में जो आये

जादू से जैसे कोई चलने लगा है
हो जादू से जैसे कोई चलने लगा है
मैं क्या करूँ दिल मचलने लगा है
तेरा दीवाना कहता है वो
चुप चुप से फिर क्यों रहता है वो
कर बैठा भूल वो ले आया फूल वो
उसे कहो जाए चाँद लेके आये
मेरे ख़्वाबों में जो आये
आके मुझे छेड़ जाए
मेरे ख़्वाबों में जो आये
आके मुझे छेड़ जाए
उसे कहां कभी सामने तो आए.

read also

Post a Comment

//oackoubs.com/4/4145780