Laagi Mohe Buddha Charan ki Aas Buddhageet song Lyrics in Hindi | Anil Khobragade

Laagi Mohe Buddha Charan ki Aas Buddhageet song Lyrics in Hindi | Anil Khobragade

Laagi Mohe Buddha Charan ki Aas Buddhageet song Lyrics in Hindi | Anil Khobragade


Song Details: 
Song: Laagi Mohe Buddha Charan ki Aas
Singer: Anilkumar Khobragade
Music: Prabhakar Dhakde
Lyrics: Nareshchandra Savai moon


लागी मोहे बुद्ध चरण की आस


लागी मोहे बुद्ध चरण की आस

तरस रहा मन मोरा बावरा

दरस की नैनन प्यास



जप और तप के धरम करम मे, सारी उमर गवाई

माया के बंधन मे आके, कभी ना चैना पायी

तड़प रहा हु जल बिन मछली, पर बिन पंछी निहाय

लागि मोहे बुद्ध चरण की आस



सच है क्या और झूठ है क्या, ये भी मै नहीं जाना

भटक रहा हु बन बन मे ही राही मै अंजाना 

झूठी राहे चलते चलते, रुकने लगी है सांस

लागी मोहे बुद्ध चरण की आस



बीच भंवर मे नैया मोरी कोसो दूर किनारा

रात अंधेरी चमके बिजुरिया मन की चंचल धारा

टूट चुके है सभी सहारे, दिजो ज्ञान प्रकाश

लागी मोहे बुद्ध चरण की आस
close