BANDEYA LYRICS - Divya Kumar | Sardar Ka Grandson

BANDEYA LYRICS - Divya Kumar | Sardar Ka Grandson

Bandeya Lyrics: The song is sung by Divya Kumar, and has music by Tanishk Bagchi while Manoj Muntashir has written the Bandeya Lyrics. , and it features Arjun Kapoor and Rakul Preet Singh.

SONG TITLE: BANDEYA LYRICS

SINGER: DIVYA KUMAR

MUSIC: TANISHK BAGCHI

LYRICS: MANOJ MUNTASHIR

MUSIC LABEL: 

FILM/ALBUM: 

BANDEYA LYRICS - Divya Kumar | Sardar Ka Grandson
BANDEYA LYRICS - Divya Kumar | Sardar Ka Grandson

BANDEYA LYRICS IN ENGLISH

Jitna chale tape tu agan mein
Utna chamke tera rang
Dar kya jo jag dushman tera
Rab hai tere sang
Rab hai tere sang

Loha hai re loha hai tu
Loha hai re loha hai tu
Himmat teri bekaboo
Jeet le zamana badh ke

Oh bandeya tere naal rabb ve
Oh bandeya tere naal rabb ve

Ho pairon mein chhale hain jo
Denge ujale tujhko
Pairon mein chhale hain jo
Denge ujale tujhko
Kar ke iraada chal de

Oh bandeya tere naal rabb ve
Oh bandeya tere naal rabb ve

Aakash yeh uncha uncha
Jaave pal mein niche
Jo tol ke dono baaju
Tu jor laga ke khiche

Tere seene mein faulaad hai
Tu maati ki aulad hai
Tujhe dar kya re
Aane de jo aaye, aane de jo aaye

Ho pairon mein chhale hain jo
Denge ujale tujhko
Pairon mein chhale hain jo
Denge ujale tujhko
Kar ke iraada chal de

Oh bandeya tere naal rabb ve
Oh bandeya tere naal rabb ve

Rait ke jaisi jind yeh
Haathon se nikal rahi hai
Tere pairon ke niche yeh
Dharti pighal rahi hai

Tera suraj bhi benoor hai
Tera sahil milo door hai
Par chalta jaa, chalta jaa tu yaara
Chalta jaa tu yaara

Ho pairon mein chhale hain jo
Denge ujale tujhko
Pairon mein chhale hain jo
Denge ujale tujhko
Kar ke iraada chal de

Oh bandeya tere naal rabb ve
Oh bandeya tere naal rabb ve

BANDEYA LYRICS IN HINDI

जितना चले टेप तू अगन में
उतना चमके तेरा रंग
दार क्या जो जग दुश्मन तर
राब है तेरे संग
राब है तेरे संग

लोहा है रे लोहा है तु
लोहा है रे लोहा है तु
हीम्मत तेरी बेक़ाबु
जीत ले ज़माना बढ़ क

ओह बंदेया तेरे नाल रब्ब वे
ओह बंदेया तेरे नाल रब्ब वे

हो पैरों में छले हैं जो
ड़ेंगे उजले तुझको
पेरों में छले हैं जो
ड़ेंगे उजले तुझको
कार के ईरादा चल द

ओह बंदेया तेरे नाल रब्ब वे
ओह बंदेया तेरे नाल रब्ब वे

आकाश यह उंचा ुंच
जावे पल में नीच
जो टोल के दोनों बाजु
च जोर लगा के खिचे

टेरे सीने में फौलाद है
च माटी की औलाद है
तूझे दर क्या र
आने दे जो ाए, आने दे जो ाए

हो पैरों में छले हैं जो
ड़ेंगे उजले तुझको
पेरों में छले हैं जो
ड़ेंगे उजले तुझको
कार के ईरादा चल द

ओह बंदेया तेरे नाल रब्ब वे
ओह बंदेया तेरे नाल रब्ब वे

राइट के जैसी जींद येह
हठों से निकल रही है
टेरे पैरों के निचे एह
वार्टी पिघल रही है

तेरा सूरज भी बेनूर है
तेरा साहिल मिलो दूर है
पर चलता जा, चलता जा तू यारा
चालता जा तू यारा

हो पैरों में छले हैं जो
ड़ेंगे उजले तुझको
पेरों में छले हैं जो
ड़ेंगे उजले तुझको
कार के ईरादा चल द

ओह बंदेया तेरे नाल रब्ब वे
ओह बंदेया तेरे नाल रब्ब वे 

close